‘वास्तु’ के अनुसार मनाएं दिवाली, घर में बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपा

भारत भर में पूरे जोश और उत्साह के साथ मनाए जाने वाले प्रमुख त्यौहारों में से एक दीपावली का त्यौहार है। भारत के अलावा दीपावली का पवित्र उत्सव अब विश्व के अन्य देशों में भी मनाया जाता है, विशेषकर जहां भारतीय लोग बहुत संख्या में बसते हैं। हालांकि, बाजारों की चहल पहल एवं चमक धमक उत्सव आकर्षण का मुख्य कारण नहीं है। असल में यह किसी भी उत्सव का दूसरा पहलू होता है। इस उत्सव की सबसे महत्वपूर्ण विशेषता भगवान श्रीगणेश, हिन्दू देवी देवताओं, धन की देवी लक्ष्मी, ज्ञान की देवी सरस्वती, शक्ति की प्रतीक मां दुर्गा की पूजा अर्चना की जाती है, ताकि उनका आशीर्वाद प्राप्त हो सके।

मान्यता के अनुसार देवी देवताओं का आशीर्वाद एवं दिव्य शक्तियां केवल उन उपासकों को प्राप्त होती हैं, जो अपने घरों को अच्छे से सजाते हैं, स्वच्छ रखते हैं। इसलिए बहुत जरूरी हो जाता है कि आप अपने घर को स्वच्छ रखें, यदि आप अपने घर में मां लक्ष्मी का प्रवेश चाहते हैं। आप अपने घर के मुख्य द्वार पर छोटे से पैरों के निशान बनाकर मां लक्ष्मी का स्वागत करें। यह पैरों के निशान आपके जीवन एवं घर में सुख समृद्घि लेकर आएंगे। इसके अलावा आप अपने घर तथा जीवन में खुशहाली, प्रसन्नता, समृद्घि, विशालता, सुगमता लाने के लिए वास्तु टिप्स का पालन करें।

वास्‍तु टिप्‍स

1. सफाई: यह जानी-मानी बात है कि माता लक्ष्‍मी उसी के घर पर आती हैँ जिसका घर उन्‍हें साफ-सुथरा मिलता है। वास्‍तु के हिसाब से काली चौदस यानी की दिवाली के दूसरे दिन भी घर को साफ करना चाहिये।

2. आसपास की चीजों को स्थानांतरित करें: वास्‍तु कहता है कि घर में रखी 27 चीजों को इधर से उधर रखना चाहिये। यदि आप सोफे पर रखा कुशन भी एक सोफे से दूसरे सोफे पर रख दें तो भी आपका काम हो जाएगा।

3. नमक के पानी का छिड़काव: पानी में नमक मिलाइये और इसे पूरे घर के कोने-कोने में छिड़किये। वास्‍तु के हिसाब से नमक घर की बुरी ऊर्जा को सोख लेता है।

4. मीठी दिवाली मनाइये: इस दिन आपके घर में चीनी की बिल्‍कुल भी कमी नहीं होनी चाहिये। यह एक रस्म है जो सुनिश्चित करता है कि आप का सालभर मीठा बीते।

5. मुख्य प्रवेश द्वार: आपके घर का मुख्‍य प्रवेश द्वार आगामी अवसरों को आप तक पहुंचाता है। तो ऐसे में दरवाज़े के सामने कभी भी कोई रूकावट ना पैदा करें। भगवान का स्‍वागत करने के लिये दरवाज़े के सामने खूबसूरत रंगोली बनाएं।

6. धन के लिये उत्‍तर जाइये: घर में उत्‍तर दिशा को कुबेरस्‍थान बोला जाता है। सुनिश्‍चित करें कि माता लक्ष्‍मी की मूर्ति यही पर रखी जाए और गणेश जी की मूर्ति उनके दाहिने साइड में हो। इसके अलावा मूर्तियों को लाल रंग के कपड़े में सजाइये।

7. बहता हुआ पानी: बोला जाता है कि बहता हुआ पानी घर की सारी नकारात्‍मक ऊर्जा को अपने साथ बहा ले जाता है। तो ऐसे में आपभी अपने घर में कोई छोटा सा झरना लगाइये और यह झरना घर के नार्थ-ईस्‍ट दिशा में लगा होना चाहिये।